Why does The Wet Dream Happen?

 Why does The Wet Dream Happen?

स्वप्न दोष क्यों होता है?


साधारणतः स्वप्न दोष को युवक और युवतियों के साथ जोड़ा जाता है। स्वप्न दोष को मेडिकल टर्म में Nocturnal emission कहा जाता है और साधारण बोलचाल कि भाषा में इसे wet Dream भी कहते हैं।

इस ब्लॉग में हम इसके सच्चाई के बारे में जानेंगे और पुराने सुनी-सुनाई बातों कि सच्चाई को भी समझने का प्रयास करेंगें।

कब होता है स्वप्न दोष: 
When does Wet Dream Happen?

जब युवक या युवती 13 बर्ष से 19 बर्ष के बीच होते है उस दौरान उनमें सेक्स कि प्रवल इच्छा उत्पन्न होती रहती है।जब युवक या युवती अपने बिपरीत लिंग वाले ब्यक्ति को देखतें है, तो उनके अवचेतन मन में, सेक्स के प्रति प्रगाढ़ इच्छा उत्पन्न होती है और जब वे सोने जातें हैं तो अवचेतन मन फिर से वही अपूर्ण इच्छा को पूरा करने का प्रयास करने में लग जाता है और व्यक्ति को लगने लगता है कि वह सही में सम्भोग कर रहा है और यह क्रिया कुछ समय चलता रहता है और कुछ समय पश्चात वीर्य स्खलन हो जाता है।
रिसर्च बताता है कि कुल सपनों का लगभग आठ प्रतिशत स्वप्न में यौन से सम्बंधित कहानियाँ होतीं है और उसी रिसर्च में पाया गया कि युवक और युवतियों को लगभग चार प्रतिशत सपनों में स्वप्न दोष हुआ।
            स्वप्न दोष के बारे में कई मिथक हैं, जो उन्हें भ्रमित कर सकते हैं जिनको ये सब होता है और यह चिंता का कारण बन सकता हैं यदि कोई व्यक्ति नहीं जानता कि इसकी असली सच्चाई क्या है।

तो आइये जानतें हैं कि इस बारे में एक्सपर्ट क्या बतलातें हैं।

1.स्वप्न दोष स्पर्म काउंट को कम नहीं करता है ।
Wet Dreamdo not reduce sperm count.

ऐसा लोगों का मानना है कि स्वप्न दोष आपके स्पर्म काउंट को कम करता है पर ऐसा नहीं है।इस क्रिया से तो सिर्फ़ पुराने शुक्राणु (स्पर्म) बहार आ जातें हैं ।तो ऐसा माना जा सकता है कि जब पुराना स्पर्म शरीर से बहार आ जाता है तो नया स्पर्म बनाने कि क्रिया शुरू होती है।जो बिल्कुल स्वस्थ होती है।

2.लड़कियों को भी स्वप्न दोष होता है
Girls also have Wet Dream.

कई आदमी ऐसा मानतें हैं कि स्वप्न दोष सिर्फ़ लड़कों में या मर्दों में ही होता है और खाश कर नए लड़कों में, लेकिन लड़कियों में भी स्वप्न दोष होतें हैं।किसी महिला के स्वप्न दोष में कामोन्माद के साथ-साथ अतिरिक्त योनि स्राव भी हो सकता है।

3. स्वप्नदोष  प्रतिरक्षा प्रणाली को प्रभवित नहीं करता है।
Wet Dream not affect the immune system.

लोगों का ऐसा मानना है कि अगर किसी व्यक्ति को लगातार स्वप्न दोष हो रहा हो तो उसकी इम्युनिटी पॉवर कमजोड होने लगती है। लेकिन इस बात का कोई ठोस प्रमाण नहीं है।यद्दपि कभी कभार स्वप्न दोष होना पुरुषों के reproductive system के लिए ठीक है।

4.स्वप्न दोष केवल यौवन (puberty) के दौरान होता है।
Wet Dream occur only during puberty.

19 बर्ष कि उम्र तक स्वप्न दोष का होना आम बात है लेकिन केवल इतने ही उम्र तक ऐसा होता है यह बात सही नहीं है। यह बढ़तें यौवन के दौरान इस कारण होता है क्योकि उस दौरान युवक या युवतियों में हार्मोनल changes होते रहतें है।और दूसरा बजह होता है कि उस उम्र में वे लोग opposit sex के तरफ़ ज़्यादा आकर्षित होतें हैं।

5.स्वप्न दोष किसी बिमारी का पहचान नहीं है।
Wet Dream is not a diagnosis of disease.

यह एक काल्पनिक बात है कि जिसको स्वप्न दोष हुआ है वह व्यक्ति अन्दुरुनी रूप से किसी सेक्सुअल बीमारी से ग्रसित है।लेकिन सच्चाई बिलकुल उलट है । स्वप्न दोष एक स्वस्थ sexual function का प्रमाण है। इसके लिए किसी बात कि चिंता कि आवश्यकता नहीं है।

6.हस्तमैथुन स्वप्न दोषों को नहीं रोक सकता है ।
Masturbation cannot prevent Wet Dream.

अगर कोई व्यक्त लगातक हस्तमैथुन करता है इसका मतलब ये नहीं कि उसको स्वप्न दोष नहीं होगा । यह इस बात पर निर्भर करता है कि उसका शरीर स्पर्म बनाने में कितना सक्षम है।हस्तमैथुन और स्वप्न दोष को जोड़ने वाले प्रमाण की कमी है, लेकिन एक व्यक्ति यह देखने के लिए हस्तमैथुन का प्रयोग करके यह जानने का प्रयास कर सकता है कि क्या होता है।

7.स्वप्न दोष लिंग को छोटा नहीं करता है।
Wet Dream do not make the penis smaller.

कुछ लोगों का मानना है कि स्वप्न दोष से पुरुषों के लिंग का आकर छोटा हो जाता है यद्दपि इस बात का को वैज्ञानिक प्रमाण मौजूद नहीं हैं।

8. कुछ आदमी को स्वप्न दोष कभी नहीं होता है।
Some men never have Wet Dreams.

स्वप्न दोष एक प्राकृतिक प्रक्रिया है जिसपर किसी का कोई नियंत्रण नहीं होता है।कोई व्यक्ति चाह कर भी स्वप्न दोष पर नियंत्रण नहीं कर पता है। अगर किसी को स्वप्न दोष नहीं हुआ हो तो भी कोई ग्लानी करने कि आवश्यकत नहीं है या फिर किसी को होता हो तो भी शर्मिंदगी करने कि ज़रूरत नहीं है। यह एक ऐसी क्रिया होती है जो person to person vary करता है।

9. स्वप्न दोष केवल कामुक सपने नहीं होतें हैं।
Wet Dreams are not just erotic dreams.

यद्दपि स्वप्न दोष अक्सर कामुक होतें हैं लेकिन यह ज़रूरी नहीं कि यह हमेशा कामुक ही हों किसी व्यक्ति को बिना किसी कामुक सपने के स्वप्न दोष हो सकतें हैं।

10.पेट के बल सोना स्वप्न दोष को बढ़ाता है
Sleeping on the stomach increases Wet Dreams.

एक अध्ययन में पाया गया कि जो लोग अधिकतर पेट के बल सोतें हैं उनको स्वप्न दोष ज़्यादा होता है। इस विषय में ठोस प्रमाणों कि काफ़ी कमी है इस लिए इस विषय पर और अधिक अध्ययन कि ज़रूरत है।

स्वप्न दोष से बचने के उपाय:-

1. पोर्न विडियो और फोटो न देखें-
Do not watch porn videos and photos-

अक्सर ऐसा देखा गया है कि ख़ास कर जो लोग अविवाहित हैं वे सोने जातें हैं तो अश्लील वीडियो, फोटो या अश्लील कहानिया ही पथातें हैं और देखतें-देखतें ही सो जातें हैं। ऐसा करने से बही अश्लील विचार आपके मस्तिष्क में चलता रहता है और हमर स्वप्न में भी वही सब दिखता है।

2.सोने का तरीक़ा-   sleeping style.

सोने का तरीक़ा भी स्वप्न दोष को बढ़ावा देता है। ऐसा पाया गया है कि जो लोग दाई ओर करबत करके सोते है उनको नींद के दौरान उत्तेजना कम होती है। और जो लोग पेट के बल सोतें हैं उनको स्वप्न दोष कि ज़्यादा समस्या होती है। और ढीला वस्त्र पहनकर सोना लाभकारी होता है।

3.तनाव मुक्त रहें-   Stay stress-free

जब आप तनाव में होते हैं तो स्वप्न दोष ज़्यादा होता हैं, मानव का स्वाभाव हमेशा ख़ुशी को खोजता रहता है और अगर आपका मन अशांत है तो वह अश्लीलता कि ओर बहेगा क्योकि मन जनता है कि अश्लीलता में क्षणिक ख़ुशी मिलती है, यह स्थायी नहीं होती है। इस लिए मन को शांत रखने का प्रयास करें।

4.ध्यान करें या योग करें-
 Do yoga or Meditation

सवेरे उठाने का प्रयास करे और सवेरे के मौसम के महत्त्व को जाने। मुफ्त में न गवाएँ। प्रातः काल उठ कर योगाभ्यास करे तत्पश्चात ध्यान करे। अच्छी आदतों को अपनाएँ और बुरी आदतों को छोड़ें।

5.ठंढे पानी से स्नान करें- 
Take a bath with cold water

लिंग हमेशा गर्म होता है और अधिक गर्मी का प्रवाह उसको उत्तेजित करने में मदद करता हैं। इस लिए, यदि आप गर्म पानी से स्नान करना चाहतें तो इस इच्छा का त्याग करें और ठंढे पानी से स्नान करना शुरू करे, लाभ मिलेगा।

5.मांसाहार को कुछ समय के लिए छोड़ दें-
 Do not eat Non-Veg

मांसाहार तामसी भोजन होता है यह तामस को पैदा करता है। और तामस हवस को पैदा करता है। इस लिए अगर आप का वस्त्र अधिकाशतः गीला हो जाता है तो आप सात्विक भोजन ग्रहण करें।



Previous
Next Post »